इस तरह के ई-मेल पर भूलकर भी ना करें क्लिक, नहीं तो जिंदगीभर पछताएंगे

आए दिन ई-मेल आईडी पर तमाम तरह के मेल आते हैं। इनमें से कई ई-मेल तो काम के होते हैं, जबकि अधिकतर ई-मेल लोगों को धोखा देने वाले और प्रमोशन वाले होते हैं। ई-मेल की वजह से ही कई लोगों को लाखों का चूना लगाया जा चुका है। कई बार कुछ ई-मेल ऐसे होते हैं जिन पर क्लिक करते ही आपका सिस्टम हैक हो जाता है। चलिए आज हम आपको कुछ फर्जी ई-मेल के बारे में बताते हैं...


अनुरोध (Request)
इस तरह के ई-मेल में आपसे किसी चीज के लिए अनुरोध किया जाता है। इस तरह के मेल अधिकतर जाने- माने एनजीओ के नाम से आते हैं लेकिन सच्चाई यह है कि शायद ही ऐसे ई-मेल एनजीओ द्वारा भेजे गए होते हैं। ऐसे किसी भी ई-मेल पर झट से क्लिक ना करें। ऐसे ई-मेल को या तो इन-बॉक्स में पड़े रहने दें या फिर डिलीट कर दें।

UPDATE KYC
इस तरह के ई-मेल आपके दोस्तों के नाम से आते हैं लेकिन जबकि आपके दोस्त ने कोई मेल भेजा ही नहीं होता है। इस ई-मेल के सब्जेक्ट को देखकर कई लोग क्लिक कर देते हैं, जबकि यह एक तरह का प्रमोशनल मेल होता है और इसका मकसद आपकी जानकारी लेनी होती है। ऐसे ई-मेल से दूर रहें।

पंजाब नेशनल बैंक4 of 6

अकाउंट समरी
ऐसे ई-मेल महीने के अंत में आते हैं। ऐसे मेल के साथ एक पीडीएफ अटैचमेंट होता है जिसे खोलने के लिए आपका बैंक अकाउंट नंबर डालना होता है। कई बार तो ऐसे ई-मेल आपके बैंक की ओर से आते हैं लेकिन कई बार हैकर्स भी ऐसे मेल करते हैं तो बैंक अकाउंट से जुड़े किसी भी ई-मेल को खोलने से पहले उसकी जांच अच्छी तरह से कर लें।

credit card


क्रेडिट कार्ड
कई बार ई-मेल आता है कि आपका क्रेडिट कार्ड बैंक से आपके घर पर भेजा जा चुका है। डिलीवरी के लिए इस फॉर्म को भरें, जबकि सच्चाई यह है कि ऐसे ई-मेल उनलोगों के पास भी आते हैं जिन्होंने कभी क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई हीं नहीं किया है।

सांकेतिक तस्वीर6 of 6

लॉटरी
कई बार ई-मेल आता है कि आपको एक लॉटरी लगी है जिसमें आपने लाखों रुपये जीत लिए हैं या फिर महंगी घड़ी आपको लॉटरी में मिली है। आपका गिफ्ट एयरपोर्ट पर आ गया है लेकिन कस्टम के लिए आपको कुछ रुपये देने होंगे। ऐसे मेल से सावधान रहें। ऐसे ई-मेल आपको चूना लगाने के लिए ही भेजे जाते हैं।
नोट- इन सबके अलावा किसी भी ई-मेल पर क्लिक करने से पहले उसकी सब्जेक्ट लाइन को ध्यान से पढ़ें और तय करें कि क्या आपने ऐसा कुछ अप्लाई किया है या फिर किसी चीज के लिए ऑर्डर किया है? यदि नहीं तो ऐसे ई-मेल को डिलीट कर दें।

Post a Comment

0 Comments